Thursday, July 31, 2008

जम्मू के लोग अधिकारों के लिए जाग चुके

जम्मू में श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड भूमि के लिए जारी जनआंदोलन में अब पनुन कश्मीर मूवमेंट संगठन ने संपूर्ण रूप से सहयोग देने का संकल्प लिया। संगठन के नेताओं ने कहा है कि यह जनआंदोलन जम्मूवासियों के लिए भविष्य की रणनीति तय करने वाला साबित हो सकता है।

जम्मू में बुधवार को प्रेस कांफ्रेंस में पनुन कश्मीर मूवमेंट के प्रधान अश्विनी चुरंगू ने कहा कि श्राइन बोर्ड से भूमि वापस करने के लिए संघर्ष समिति की ओर से छेड़ा गया आंदोलन लोगों के दिलो-दिमाग में छा चुका है। पिछले साठ वर्षो से भेदभाव की नीति का शिकार हुए जम्मूवासियों को अब समझ में आ चुका है कि अपने अधिकारों को पाने के लिए उन्हें भी संघर्ष का ही रास्ता चुनना पड़ेगा, इसके लिए चाहे कोई भी कोई कुर्बानी क्यों न देनी पड़े। उन्होंने कुलदीप वर्मा की शहादत को श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए कहा कि अभी कई कुलदीप जमीन के लिए कुर्बानी देने के तैयार हैं। कश्मीर संकल्प यात्रा के एक माह के अमरीका व यूरोप के दौरे से लौटे अश्विनी के साथ कश्मीरी सिख डिस्पलेस्ड फोरम के नेता सरदार हरमोहिंदर सिंह ने जनआंदोलन को अपना पूरा समर्थन देने की घोषणा दी। पीकेएम नेता ने जनआंदोलन को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि श्री बाबा अमरनाथ श्राइन सभी हिंदुओं की आस्था का प्रतीक है और यह राष्ट्रीय स्तर पर भी अपनी बराबर मान्यता रखती है। जब तक आंदोलन जारी रहेगा तब तक संगठन की सभी गतिविधियां ठप रहेंगी। राज्यपाल एनएन वोहरा को पद से हटाने की मांग करते हुए दोनों नेताओं ने सभी राष्ट्रीय ताकतों से एकजुट होकर आंदोलन को सिरे चढ़ाने की अपील की।
Home | Hindu Jagruti | Hindu Web | Ved puran | Go to top