Monday, July 21, 2008

शिवालय में गूँजेगा ॐ नमः शिवाय शिव आराधना का पर्व श्रावण मास

शिवालय में गूँजेगा ॐ नमः शिवाय
शिव आराधना का पर्व श्रावण मास


भगवान शिव की आराधना का पर्व श्रावण मास शुरू हो गया है। रक्षाबंधन तक चलने वाले इस पर्व के लिए शहर के शिवालय विशेष पूजन-अर्चन के लिए सजकर तैयार हो गए हैं। मंदिरों में आकर्षक रोशनी की गई है। पूजन सामग्रियों की दुकानें सज गई हैं।

शिव भक्तों के लिए श्रावण मास का विशेष महत्व होता है। एक महीने तक श्रद्धालु उपवास रखकर शिव की भक्ति में लीन होते हैं। मंदिरों में 'ॐ नमः शिवाय' के जयकारे गूँजने लगते हैं और घर-घर में लोग शिव आराधना में लीन हो जाते हैं। वेदों में कहा गया है कि त्रिनेत्रधारी भगवान शिव का कृपापात्र बनने के लिए सबसे उपयुक्त दिन श्रावण मास के होते हैं और इन दिनों में किया गया शिव पूजन सहस्त्र गुना फल देने वाला होता है।

शास्त्रों में कहा गया है कि भोलेनाथ वैसे तो मात्र मानस पूजा से ही संतुष्ट हो जाते हैं, लेकिन श्रावण मास में वे अपने भक्तों पर पूरी कृपा लुटाने को आतुर रहते हैं। इन दिनों महामृत्युंजय मंत्र को सिद्ध किया जाता है। इस मंत्र का जाप शिव भक्तों को वर्ष भर निरोगी बने रहने में सहायता करता है।
Home | Hindu Jagruti | Hindu Web | Ved puran | Go to top